Friday, 7 July 2017

अब लालू और सीबीआई: तेरा साथ ना छोड़ेंगे

लालू और सीबीआई में अब चोली दामन का साथ दिख रहा है, तमाम जमीन के मामलों में जहां पूरा परिवार फंसा है, वही अब उनके रेलमंत्री काल में किये गये होटल आबंटन को लेकर कल रात से सीबीआई कई स्थानों पर छापेमारी कर रही है. जहां भाजपा के नेता सुशील मोदी लालू को लेकर रोज नये खुलासे कर रहें हैं वहीं दूसरी और नितीश भी लालू से दूरी बनाते दिख रहे हैं. बिहार में लालू और नितीश की मिलीजुली सरकार है, जिसमें संख्या बल लालू की पार्टी राजद का ही है. लेकिन राष्ट्रपति चुनाव में विपक्ष का साथ छोड़ भाजपा के साथ नितीश के समर्थन को कई नये अर्थों में देखा जा रहा है. अब भाजपा और नितीश दोनों मिलकर एक बार फिर लालू को कमजोर करने की पुरजोर कोशिश कर रहें हैं, वैसे भी इस वक्त सारे देश में विपक्ष को तोड़ने का काम मोदी और उनकी टीम बखूबी कर रही है. कहीं ये काम राज्यपालों के माध्यम से किया जा रहा है तो कहीं सीबीआई के माध्यम से, खैर घोटाला हुआ है तो जांच होनी चाहिए और दोषियों को कड़ी सजा भी मिलनी चाहिए लेकिन यहाँ तो सिर्फ छापों का खेल हो रहा है, छापे पड़ते हैं फिर पता नहीं क्या होता है? नोटबंदी के समय और उसके बाद भी करोड़ों रूपये छापों में मिले किसका क्या हुआ पता नही?

ताजा मामला रेलवे (आई आर सी टी सी) के एक होटल का रख रखखाव एक प्राइवेट कंपनी को देने का है, सीबीआई ने लालू प्रसाद यादव, उनकी पत्नी राबड़ी यादव, बेटे समेत कई अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया है. इसके अलावा जांच एजेंसी ने दिल्ली, पटना, रांची, पुरी और गुरुग्राम समेत 12 ठिकानों पर छापेमारी की है.

लालू, उनकी पत्नी राबड़ी देवी और बेटे तेज प्रताप के अलावा दो कपंनियों के डायरेक्टरों के खिलाफ भी केस दर्ज किया गया है. लालू पर आरोप है कि रेलमंत्री रहने के दौरान उन्होंने रांची और पुरी समेत अन्य रेलवे होटलों के विकास और मरम्मत का ठेका निजी कंपनियों को दिया था. तत्कालीन रेल  मंत्री लालू यादव ने सुजाता होटल्स प्राइवेट लिमिटेड को ठेका दिया था. रांची और पुरी स्थित दो बीएनआर होटलों के रखरखाव, निर्माण और देखभाल का जिम्मा सुजाता  होटल्स प्राइवेट लिमिटेड को दिया गया था.

सीबीआई ने जिन दो कंपनियों पर छापे मारे हैं, इनमें डिलाइट मार्केटिंग प्राइवेट लिमिटेड, जो कि अब लारा प्रोजेक्ट प्राइवेट लिमिटेड के नाम  से रजिस्टर्ड है. सुजाता होटल्स प्राइवेट लिमिटेड पर भी छापेमारी हुई है.
सीबीआई ने  लालू यादव, राबड़ी देवी, तेज प्रताप यादव और आईआरसीटीसी के तत्कालीन एमडी पी. के गोयल और सुजाता होटल्स प्राइवेट लिमिटेड के दो डायरेक्टरों विनय कोचर और विजय कोचर के साथ सरला गुप्ता के यहां छापेमारी की है. बता दें कि पटना सचिवालय के पास बीरचंद पटेल मार्ग पर स्थित सुजाता होटल्स प्राइवेट लिमिटेड के ठिकाने पर सीबीआई ने छापा मारा है. इसके साथ ही विनय और विजय कोचर की कंपनियों के विभिन्न पतों पर छापेमारी हुई है.

No comments:

Post a Comment