Thursday, 7 March 2019

चौकीदार चौकन्ना है और राफेल की फाइलें गुम हो गयी

जल्द ही अगली लोकसभा के चुनाव होने हैं ऐसे में सियासी घमासान तेज हैं. एक ओर भाजपा खडी है दूसरी ओर समूचा विपक्ष. पिछले पांच सालों में भाजपा और मोदी शाह की टीम ने राजनीति को शह और मात का खेल बना दिया है.
लोकतंत्र में आज सवाल करना एक अपराध और देश द्रोह माना जा रहा है. अब जब खुद भारत सरकार या सीधे शब्दों में कहें चौकन्ने चौकीदार की सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में ये माना है कि राफेल की सीक्रेट फाइल चोरी हो गयी हैं. ये बात कोर्ट में अटोर्नी जर्नल वेणुगोपाल ने कही है.
सुप्रीम कोर्ट में वेणुगोपाल कहते हैं कि इसकी जांच हो रही  है कि फाइल कैसे चोरी हुयी हैं. वेणुगोपाल सुप्रीम कोर्ट में जब ये कहते हैं कि, "यदि अब सीबीआई को जांच के निर्देश दिए जातें हैं, तो देश को भारी नुकसान होगा".
सुप्रीम कोर्ट में दायर पुनर्विचार याचिकाओं में आरोप लगाया गया है कि सुप्रीम कोर्ट ने जब राफेल सौदे से सम्बन्धित फैसला सुनाया था तो सरकार की ओर से कई तथ्यों को छुपाया गया था. जब प्रशांत भूषण ने हिन्दू में छपे एक लेख का हवाला दिया तो वेणुगोपाल ने कहा ये लेख चोरी कि गयी फाइल के आधार पर लिखा गया है और इस मामले की जांच जारी है.

यहाँ देखने वाली बात ये है कि विपक्ष विशेषकर कांग्रेस लगातार राफेल सौदे को लेकर सवाल उठा रही है. मोदी जी बार बार जनता के बीच इसे एक षड्यंत्र बता रहे हैं. लेकिन अब जब अटॉर्नी जरनल वेणुगोपाल खुद इस बात को स्वीकार कर रहे हैं कि दस्तावेज गायब हैं तो भाजपा इसे सियासी षड्यंत्र बता रही है. अब वेणुगोपाल खुद इस सियासी षड्यंत्र में शामिल हैं या फिर कांग्रेस के आरोप सही हैं. ये बात जनता को ही समझनी होगी.
(नेशनल न्यूज कॉज )

No comments:

Post a Comment