Wednesday, 28 August 2019

बिना ओटीपी अब एटीएम से नहीं निकलेंगे पैसे




               एटीएम से पैसे निकालने के लिए ओटीपी जरूरी होगा
आप आये दिन ऑनलाइन और एटीएम फ्रॉड के बारे में सुनते हैं. एटीएम क्लोनिंग, एटीएम पर चिप लगा या कैमरे की मदद से आपके कार्ड का डेटा चोरी करना आम बात है. इन घटनाओं को रोकने के लिए अब बैंक नए सुरक्षा उपायों पर काम कर रहे हैं.

अब आपको हर एटीएम ट्रांसक्शन पर एक ओटीपी आएगा जिसे डालने के बाद ही, आप एटीएम से पैसे निकाल पाएंगे. कैनरा बैंक ओटीपी की इस व्यवस्था को कई एटीएम पर शुरू कर चुका है. ₹10,000 की निकासी अब बिना ओटीपी नहीं हो पाएगी. अब कैनरा बैंक एटीएम से पैसे निकालने के लिए एटीएम पिन के साथ ओटीपी अनिवार्य होगा.
ये ओटीपी बैंक में खाते के साथ रजिस्टर्ड मोबाइल न० पर एसएमएस के जरिये भेजा जाएगा. एसबीआई के डिप्टी जरनल मैनेजर सुरेश नायर ने मीडिया से बात करते हुए कहा ओटीपी बेस्ड ट्रांसेक्शन को आरम्भ करने जा रहा है.
अन्य बैंक भी जल्द ही एटीएम पर ओटीपी बेस्ड ट्रांसेक्शन आरम्भ करने की तैयारी में हैं.
(आशुतोष पाण्डेय)

Monday, 26 August 2019

रिलेशनशिप सिर्फ औपचारिकता क्यों हो गई?


                   ब्रेकअप कितना आसान, कितना कठिन
रिलेशनशिप एक ऐसा शब्द है जिससे हर कोई जिन्दगी में दो चार होता ही है. रिलेशन बनाना तो आसान होता है लेकिन उनको निभाना और निभा के साथ संतुष्ट होना बिल्कुल अलग बात है. रोज कई रिलेशनशिप ब्रेकअप में बदलती हैं, इसका कारण आपसी सैटिस्फैक्शन की कमी होता है. लेकिन रिलेशनशिप का एक दूसरा आयाम भी है जब कोई व्यक्ति अपने पार्टनर की खुशी के लिए बिना संतुष्टि रिलेशनशिप को बनाये रखता है.
पर्सनालिटी और सोशल साइकोलॉजी के जर्नल में प्रकाशित एक स्टडी के अनुसार ज्यादातर लोग अपने पार्टनर के कारण बिना इच्छा भी रिलेशनशिप में बने रहते हैं, जबकि उनका पार्टनर उम्मीद के अनुसार रोमांटिक नहीं है. काफी चैलेंजिंग परिस्थितियों के बावजूद भी लोग खुद को किसी रिलेशनशिप से अलग नहीं कर पाते हैं. वे अपने पार्टनर के साथ ब्रेकअप नहीं करते हैं क्योंकि उनको लगता है ऐसा करना उनके साथी के लिए ठीक नहीं होगा.
इस स्टडी की ऑथर सामंथा जोएल के अनुसार लोगों को लगता है कि उनका पार्टनर शायद उनसे ब्रेकअप नहीं चाहता है, इसीलिए वे ब्रेकअप नहीं कर पाते हैं.
स्टडी के अनुसार रिलेशनशिप में ज्यादा निर्भर लोग अपने पार्टनर पर ज्यादा विश्वास करते थे और इसीलिए ब्रेकअप पर बात नहीं कर पाते थे. एक्सपर्ट की राय भी इस पर काफी मिलती जुलती है उनके अनुसार प्यार करने वाले प्रेमी या प्रेमिका के लिए ब्रेकअप करना आसान नहीं होता है, एक पार्टनर रिलेशनशिप में खुश है और दूसरा नाखुश तो भो ब्रेकअप आसान नहीं होता है.
(आशुतोष पाण्डेय)

Wednesday, 21 August 2019

स्टेट बैंक के ATM अब बन्द होंगे


                         SBI एटीएम कार्ड अब बन्द होंगे
भारतीय स्टेट बैंक अब प्लास्टिक एटीएम कार्ड को बंद करने वाली हैं. स्टेट बैंक ऑफ इंडिया एटीएम मशीनों को कम करने और डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए ये कदम उठा रही है. आज देश में तमाम लोग पेमेंट और पैसे निकालने के लिए एटीएम यानि डेबिट कार्ड का प्रयोग करते हैं. नोटबन्दी के समय एटीएम पर लगी भीड़ और खाली एटीएम से लोग काफी परेशान हुए थे. आज एटीएम के जरिये काफी फर्जीवाड़ा भी होता है, तमाम ठगी की घटनाएं सामने आती हैं कभी डेबिट कार्ड की क्लोनिंग या फिर पिन या फिर ओटीपी के जरिये ठगी आम है.
अब आपको यह बता दें कि कैसे एटीएम कार्ड के बदले ऑनलाइन ट्रांजेक्शन कैसे किया जाएगा, स्टेट बैंक YONO प्लेटफॉर्म के जरिये ये सभी ऑनलाइन ट्रांजेक्शन और पैसे निकाले जा सकेंगे. SBI के चैयरमैन रजनीश कुमार ने इस बात की जानकारी एक कार्यक्रम मुम्बई में दी.

रजनीश कुमार ने कहा,"हमारी योजना डेबिट कार्ड को प्रचलन से बाहर करने की है. हम इस बात को लेकर आश्वस्त हैं कि उन्हें हम खत्म कर सकते हैं".
उन्होंने बताया कि देश में 90 करोड़ एटीएम कार्ड और 3 करोड़ क्रेडिट कार्ड हैं.  उन्होंने बताया कि SBI के YONO मशीन के जरिये निकासी या खरीददारी की जा सकेगी. रजनीश कुमार ने बताया कि बैंक पहले ही 68,000 "YONO CASH POINT" की स्थापना की जा चुकी है और अगले 18 महीनों में 10 लाख तक करने की योजना है.
SBI ने इस मार्च महीने में "योनो कैश" सेवा शुरू की थी, जो ग्राहकों को बिना एटीएम कार्ड पैसे निकालने की सुविधा देता है, यह आसान होने के साथ काफी अधिक सुरक्षित भी है.
(आशुतोष पाण्डेय)

Friday, 16 August 2019

आप हैक पासवर्ड प्रयोग कर रहें हैं: गूगल स्टडी



गूगल ने अपनी एक स्टडी में दावा किया है कि इंटरनेट पर प्रयोग आने वाले 1.5% पासवर्ड हैक्ड हो चुके हैं. गूगल ने बताया है की हमने 21 मिलियन यूजरनेम और पासवर्ड्स को स्कैन किए हैं और इनमें से 3.16 लाख से ज्यादा अनसेफ पाए गए हैं.
कंपनी ने कहा है कि डेटा ब्रीच की वॉर्निंग भेजे जाने के बाद 26% यूजर्स ने अपने पासवर्ड बदले लिए हैं. इन नए पासवर्ड्स में से 94% असली पासवर्ड जितने स्ट्रॉन्ग हैं. यहाँ पासवर्ड स्ट्रांग होने का अर्थ ऐसे पासवर्ड से है जिसे आसानी से हैक ना किया जा सके.
गूगल के अनुसार कुछ यूजर्स ने इन वॉर्निंग को इग्नोर भी किया है. ऐसे यूज़र ने अभी भी पासवर्ड नहीं बदला है. गूगल ने इस स्टडी में ये भी देखा है है इंटरनेट यूज़र कई वेब साइट्स के लिए एक ही पासवर्ड का प्रयोग करते हैं जिससे हैकिंग का ख़तरा बढ़ जाता है. एक मज़बूत पासवर्ड बनाने के लिए अल्फ़ाबेट्स के साथ नम्बर और स्पेशल कैरेक्टर का प्रयोग किया जाना चाहिए. समय पर पासवर्ड को बदलते रहें.


(आशुतोष पांडेय)

Thursday, 15 August 2019

दिल्ली में महिलाओं के लिए डीटीसी बस फ्री



73 स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घोषणा करते हुए कहा कि दिल्ली में महिलाओं के लिए 29 अक्टूबर से डीटीसी की सभी बस फ्री होंगी. काफी लंबे समय से केजरीवाल मेट्रो और डीटीसी में महिलाओं की यात्रा मुफ्त करने की योजना पर विचार कर रही थी, लेकिन मेट्रो में दिल्ली सरकार के लिए ये कर पाना सम्भव नहीं था.
अब अरविंद केजरीवाल ने 29 अक्टूबर से महिलाओं के लिए सभी डीटीसी बसें फ्री करने की घोषणा कर दी है. इससे पहले जब केजरीवाल ने ये बात कही थी तो भाजपा और कांग्रेस से जुड़े नेताओं ने इसका विरोध किया था. उनका मानना है कि इससे राजस्व घाटा बढ़ेगा.
आज जब नेशनल न्यूज़ कॉज के द्वारा जब कुछ कामकाजी महिलाओं से बातचीत की तो सबने इस का समर्थन किया. कामकाजी महिलाएं जो घर से काफी दूर काम के लिए जाती हैं तो उनके टिकट में काफी पैसे खर्च हो जाते हैं. इसके अलावा कालेज जाने वाली स्टूडेंट्स ने भी इसे लाभदायक बताया है. अरविंद केजरीवाल ने बताया है कि किराया कम नहीं किया गया बल्कि महिलाओं को सब्सिडी दी जा रही है, उनका कहना है जब सरकार टैक्स वसूलती है तो उसकी जिम्मेदारी है कि उसका फायदा सीधे जनता को मिले.

(आशुतोष पाण्डेय)